Top Best Urdu Gazal Whatsapp and Facebook Status and Messages – Part 2

Top Attitude Status for Girls

Feel free to use these Status for Facebook, WhatsApp & Other Social Sites

झूठा निकला क़रार तेरा
अब किसको है ऐतबार तेरा

दिल में सौ लाख चुटकियाँ लीं
देखा बस हम ने प्यार तेरा

दम नाक में आ रहा था अपने
था रात ये इंतिज़ार तेरा

कर ज़बर जहाँ तलक़ तू चाहे
मेरा क्या, इख्तियार तेरा

लिपटूँ हूँ गले से आप अपने
समझूँ कि है किनार तेरा

इंशा से मत रूठ, खफा हो
है बंदा जानिसार तेरा।


मैं खुद भी सोचता हूँ..

मैं खुद भी सोचता हूँ ये क्या मेरा हाल है
जिसका जवाब चाहिए, वो क्या सवाल है

घर से चला तो दिल के सिवा पास कुछ न था
क्या मुझसे खो गया है, मुझे क्या मलाल है

आसूदगी से दिल के सभी दाग धुल गए
लेकिन वो कैसे जाए, जो शीशे में बल है

बे-दस्तो-पा हू आज तो इल्जाम किसको दूँ
कल मैंने ही बुना था, ये मेरा ही जाल है

फिर कोई ख्वाब देखूं, कोई आरजू करूँ
अब ऐ दिल-ए-तबाह, तेरा क्या ख्याल है।


कब याद मे तेरा साथ नहीं, कब हाथ में तेरा हाथ नहीं
साद शुक्र की अपनी रातो में अब हिज्र की कोई रात नहीं

मुश्किल है अगर हालत वह, दिल बेच आए, जा दे आए
दिल वालो कूचा-ए-जाना में, क्या ऐसे भी हालात नहीं

जिस धज से कोई मकतल में गया, वो शान सलामत रहती है
ये जान तो आनी-जानी है, इस जान की तो कोई बात नहीं

मैदान-ए-वफ़ा दरबार नहीं, या नाम-ओ-नसब की पूछ कहाँ
आशिक तो किसी का नाम नहीं, कुछ इश्क किसी की जात नहीं

गर बाज़ी इश्क की बाज़ी है, ओ चाहो लगा दो दर कैसा
गर जीत गए तो क्या कहने, हारे भी तो बाज़ी मात नहीं।


*Nice line*
किसी शायर ने अपनी अंतिम यात्रा
का क्या खूब वर्णन किया है….

था मैं नींद में और
मुझे इतना
सजाया जा रहा था…

बड़े प्यार से
मुझे नहलाया जा रहा
था…

ना जाने
था वो कौन सा अजब खेल
मेरे घर
में…

बच्चो की तरह मुझे
कंधे पर उठाया जा रहा
था…

था पास मेरा हर अपना
उस
वक़्त…

फिर भी मैं हर किसी के
मन
से
भुलाया जा रहा था..

जो कभी देखते
भी न थे मोहब्बत की
निगाहों
से…

उनके दिल से भी प्यार मुझ
पर
लुटाया जा रहा था..

मालूम नही क्यों
हैरान था हर कोई मुझे
सोते
हुए
देख कर…

जोर-जोर से रोकर मुझे
जगाया जा रहा था..

काँप उठी
मेरी रूह वो मंज़र
देख
कर…
.
जहाँ मुझे हमेशा के
लिए
सुलाया जा रहा था…
.
मोहब्बत की
इन्तहा थी जिन दिलों में
मेरे
लिए…
.
उन्हीं दिलों के हाथों,
आज मैं जलाया जा रहा था!!!

🍁🍂🍁🍂🍁🍂🍁🍂
👌 लाजवाब लाईनें👌
🍁🍂🍁🍂🍁🍂🍁🍂

मिली थी जिन्दगी
किसी के काम आने के लिए..

पर वक्त बीत रहा है
कागज के टुकड़े कमाने के लिए..
क्या करोगे इतना पैसा कमा कर..?
ना कफन मे जेब है ना कब्र मे अलमारी..

और ये मौत के फ़रिश्ते तो
रिश्वत भी नही लेते..


Woh Silsile, Woh Shauq, Woh Aadat Nahin Rahi
Phir Yeh Hua Ke Dard Mein Shiddat Nahin Rahi!


Shehar Mein Lagta Nahin Sahra Mein Ghabrata Hai Dil
Ab Kahan Le Ja Ke Baithein Aise Deewane Ko Hum!


जो हुक्म देता है वो इल्तिजा भी करता है
ये आसमान कहीं पर झुका भी करता है
मैं अपनी हार पे नादिम हूँ इस यक़ीन के साथ
कि अपने घर की हिफ़ाज़त ख़ुदा भी करता है
तू बेवफ़ा है तो ले एक बुरी ख़बर सुन ले
कि इंतज़ार मेरा दूसरा भी करता है


किसी दिन प्यास के बारे में उससे पूछिए जिसकी,
कुएँ में बाल्टी रहती है रस्सी टूट जाती है !


सो जाते हैं फूटपाथ पे अख़बार बिछा कर,
मज़दूर कभी नींद की गोली नहीं खाते !


Honton ki Hansi ko Na Samajh Haqeeqat-e-Zindagi..!!
Dil Mein Uter k Daikh Hum kitnay Tootay Howay Hain..!!


Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *